Home » Shayari » Kasar tujhe chahne mein

Kasar tujhe chahne mein

Baat muqdar par aa kar rukhi hai warna…..
koi kasar to na chodi thi tujhe chahne mein…

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

Har Waqt Rulata Hai Had Se Zyada Wo,
Hum Sapne Mein Bhi Jisko Rone Nahi Dete….

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

Jinhe Pata Hota Hai Ki Akelapan Kya hota Hai,
Wo Log hamesha Dusro ke liye hazir rahte Hain.

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

क्यों किया प्यार हमे यू तड़पाने के लिए
अब छोड़ दिया ना हमे यू तड़प कर मरजाने के लिए

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

हूआ था शोर पिछली रात को दो चाँद निकले है
बताओ क्या जरूरत थी तुम्हे छत पर टहलने की

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

Kasar-tujhe-chahne-mein-best-shayari-in-hindi

हर बार हम पर इल्ज़ाम लगा देते हो मोहब्बत का,
कभी खुद से भी पूछा है इतने हसीन क्यों हो।

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

क्या ऎसा नहीं हो सकता के हम तुमसे तुमको माँगे,
और तुम मुस्कुरा के कहो के अपनी चीजें माँगा नहीं करते..!!

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

ये मौत भी कितना खूबसूरत होगा ।
जो इससे मिलता है कमबख्त जीना छोर देता है।

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

तेरी मोहब्बत की हिफ़ाजत कुछ इस तरह की हम ने,
जब कभी किसी ने प्यार से देखा नजरें झुका ली हम ने।

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

Ruthne manane mein na guzar jaye ye jawani
Aao bade ban jaye likhe pyar ki nai kahani..

⊱✿ ✦✧ ✶❄✴ ✧✦ ✿⊰

Black Friday Free Wordpress Website Blog

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

*